logo

विक्रम भट्ट कैंप में काम करना सौभाग्य की बात —– पवन राजपूत 

logo
विक्रम भट्ट कैंप में काम करना सौभाग्य की बात —– पवन राजपूत 

रंगमंच, टेलीविजन व फिल्म के समर्थ कलाकार पवन राजपूत अभी ऊँची उड़ान पर हैं। ग्वालियर पूत पवन सिंह राजपूत सम्प्रति विक्रम भट्ट के वेब सीरिज स्पाटलाईट में काम कर रहे हैं। पवन से इस सीरिज को लेकर हुई बातचीत के अंश :
●  छोटे-बड़े पर्दे पर काम करने के बाद अचानक ये पर्दे के पीछे जाकर काम करने का क्या अर्थ ?
—– जिसे आप पीछे कह.रहे हैं, वही आज हर जगह आगे है। कंप्यूटर आज टेबल से उछलकर पाकेट मेंआ गया है। अब तो फिल्में मोबाईल पर देखी जाने लगी हैं,टीवी धारावाहिक तक लोग घूमते-फिरते देख रहे हैं।अब वेब का ज़माना है।
● ठीक है, पर, ये सब आफर कैसे मिला ?
—– मैंने कुछ टीवी सीरियल्स में भी काम किया है। ज़ी टीवी पर चल रहे कुमकुम भाग्य में काम किया। उसके बाद  ये रिश्ता क्या कहलाता है तथा बड़ी दूर से आए हैं इत्यादि मेंभी काम किया था। इसी पता चला, विक्रम भट्ट एक वेब सीरिज बनाने जा रहे हैं। मैंने भी अप्रोच किया और मेरा चयन हो गया। यही नहीं, वायकाम 18 के एक वेब शो के लिए भी मैं सेलेक्ट हो गया हूँ।

    

● फिर तो बस वेब स्टार बन के रहना पड़ेगा ?
—– बिल्कुल नहीं, रास्ता सबके लिए खुला है। वेब पर तो अब बड़े-बड़े स्टार काम कर रहे हैं। फिल्म, सीरियल दोनों में काम जारी रहेगा।
● कितनी फिल्में की हैं ?
……… शुरूआत “बीहड़”  से हुई। इसमें एक खबरी की नकारात्मक भूमिका थी। उसके बाद निर्माता विकास कुमार की भोजपुरी फिल्म “बेटा” में काम किया । पूर्वांचल टॉकीज के बैनर तले बनी इस फिल्म में दिनेशजी(निरहुआ)  के साथ सेकंड लीड थी ।


● और टीवी चैनलों पर ?
—– ज़ी टीवी पर “कुमकम भाग्य” में पहला मौका मिला। उसके बाद  ” ये रिश्ता क्या कहलाता है ‘ , “बड़ी दूर से आए हैं’ इत्यादि में काम किया।
● विक्रम भट्ट को फिल्म में काम करने के लिए अप्रोच किया ?
—– अभी वैसा मौका नहीं आया है,। पर, विक्रम भट्ट के कैम्प से जुड़ना भी सौभाय की बात है

Print Friendly, PDF & Email

Comments are closed.

logo
logo
Powered by WordPress | Designed by Elegant Themes