logo

मंत्री शिवचंद्र राम से हरियाणा से आए एक सांस्‍कृतिक दल ने की मुलाकात

logo
मंत्री शिवचंद्र राम से हरियाणा से आए एक सांस्‍कृतिक दल ने की मुलाकात

पटना। 29 राज्‍यों की यात्रा के दौरान पटना पहुंचा हरियाणा का एक सांस्‍कृतिक दल नेशनल इंटीग्रेटेड फोरम ऑफ आर्टिस्‍ट एंड एक्टिविस्‍ट (NIFAA) ने आज राज्‍य के कला संस्‍कृति एंव युवा विभाग के मंत्री शिवचंद्र राम और विभाग के अन्‍य अधिकारियों से पाटलिपुत्र स्‍पोर्टस कॉमप्‍लेक्‍स में मुलाकात की और वृक्षारोपण भी किया। इस दौरान विभाग के अपर सचिव आनंद कुमार, NIFAA  के चेयरमेन प्रीतपाल सिंह पन्‍नू, खेल विभाग के निदेशक बलवीर  यादव, मीडिया प्रभारी रंजन सिन्‍हा, विनय कुमार आदि लोग मौजूद रहे। प्रतिनिधिमंडल में शामिल सदस्‍यों को राज्‍य सरकार की ओर से मंत्री ने मोमेंटो और शॉल देकर सम्‍मानित किया। बाद में मंत्री शिवचंद्र राम ने कहा कि NIFAA की टीम ने देश की युवा शक्ति को एकजुट करने का बीड़ा उठाया है, उसके लिए बिहार सरकार उन्‍हें धन्‍यवाद देती है। यह यात्रा देश भर में युवाओं के बीच समानता और अखंडता का संदेश देगी।

उन्‍होंने कहा कि यह यात्रा इस बात को और भी पुख्‍ता करेगी कि यह देश टूटा हुआ नहीं है, बल्कि अखंड है। युवा पीढी के लिए यह सराहनीय कार्य है। उन्‍होंने हरियाणा से आए दल को भरोसा दिलाया कि हार्मोनी 2017 में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में बिहार का भी दल हिस्‍सा लेगा और बिहार की संस्‍कृति से देश भर के युवाओं को परिचय कराएगी। मंत्री ने बिहार के ऐतिहासिक महत्‍व पर चर्चा करते हुए कहा कि यहां का इतिहास स्‍वर्णिम अक्षरों में लिखा गया है। अभी  हाल ही में 350वां प्रकाश दिवस मनाया गया, जिससे दुनिया भर में बिहार ख्‍याति फैली और अब चंपारण सत्‍याग्रह शताब्‍दी समारोह के जरिए एक बार फिर से बिहार गांधी जी के संदेशों को दुनियाभर में फैलाने का काम कर रही है।

इससे पहले नेशनल इंटीग्रेटेड फोरम ऑफ आर्टिस्‍ट एंड एक्टिविस्‍ट (NIFAA) के दल ने हरियाणा स्‍वर्ण जयंती के अवसर पर आयोजित होने वाली हार्मोनी 2017 कार्यक्रम की जानकारी दी, जो 21 अक्‍टूबर से 29 अक्‍टूबर के बीच हरियाणा और दिल्‍ली में आयोजित की जाएगी। दल के प्रतिनिधि ने बताया कि हरियाणा स्‍वर्ण जयंती – भारत एक यात्रा कार्यक्रम  के सिलसिले में NIFAA की दल ने एक यात्रा की शुरूआत की है, जो देश के सभी 29 राज्‍यों और पांच केंद्र शासित प्रदेशों में जाकर उनकी राजधानी में एक पेड़ लगाएगी और उस राज्‍य का मिट्टी और पानी इकठ्ठा करेगी। यात्रा समाप्‍त होने के बाद ऐतिहासिक कुरूक्षेत्र के मैदान में सभी राज्‍यों से लाए गए मिट्टी – पानी को मिलाकर राष्‍ट्रीय एकता के प्रतीक के रूप में एक पौधा लगाया जाएगा। इसके बाद भागवद गीता की जन्‍मस्‍थली रहा कुरूक्षेत्र का मैदान भारत की राष्‍ट्रीय एकता और अखंडता को प्रदर्शित करेगा।

उन्‍होंने कहा कि इस यात्रा का मुख्‍य उद्देश्‍य है देश के युवाओं को एक सूत्र में पीरोना। दुनिया भर में सबसे ज्‍यादा युवाओं की संख्‍या भारत में है। इसलिए जैसे युवा होंगे, वैसा भारत होगा। ऐसे में एक अच्‍छा भारत बनाने के लिए और राष्‍ट्रीय एकता एवं अखंडता को अक्षुण रखने में युवाओं की भूमिका को इस यात्रा के जरिए उनके बीच पहुंचाया जाएगा। उन्‍होंने कहा कि इसी क्रम में हरियाण के स्‍वर्ण जयंती समारोह में सभी राज्‍यों से एक – एक सांस्‍कृति दल, देश के भी सभी जिलों से चार – चार युवाओं और 500 अप्रवासी भारतीय युवाओं को आमंत्रित किया जाएगा।

NIFAA दल ने बिहार सरकार द्वारा सम्‍मानित किए जाने पर आभार जताया और कहा कि बिहार ने भारत और दुनिया को नया देने की पहल की है। विश्‍व भर में शिक्षा को सबसे अधिक प्रोत्‍साहन बिहार में मिला है। विश्‍व शांति की संदेश का शुरूआत भी बिहार ऐसे हुआ है। इसलिए किसी भी अच्‍छे काम की शुरूआत बिहार के बिना संभव नहीं है। उन्‍होंने कहा कि 13 अप्रैल को हरियाणा के राजभवन से शुरू 31 दिनों तक चलने वाली यह यात्रा हिमाचल प्रदेश उत्तरांखंड, उत्तर प्रदेश के रास्‍ते बिहार पहुंची है। इसके बाद पूर्वोत्तर भारत से दक्षिण भारत होते हुए 13 मई को दिल्‍ली में समाप्‍त होगी।

Print Friendly, PDF & Email

Comments are closed.

logo
logo
Powered by WordPress | Designed by Elegant Themes